दोस्तों ,IFSC full form बहुत सी प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछा जाता हैं। इसलिए मैंने IFSC के केवल full form को बताने के स्थान पे थोड़ी विस्तृत जानकारी देना उचित समझा जिससे की आपको इसके फायदे , नुकसान और बैंकिंग सिस्टम में हुए क्रन्तिकारी परिवर्तन में योगदान की पूर्ण जानकारी मिल सके। आइये जानते हैं की IFSC full form क्या होता है। 

IFSC full form – Indian Financial System Code (इंडियन फाइनेंसियल सिस्टम कोड)

Online banking आज की जरुरत बन चुकी है और IFSC code इसका महत्वपूर्ण अंग है। पहले हम कहीं भी पैसे भेजने के लिए घंटों बैंक की लाइन में लगते थे तब जाकर नंबर आता था परन्तु अब ऑनलाइन का समय है पैसे तो मिनटों में पहुंच जाते हैं। ऑनलाइन बैंकिंग के द्वारा पैसे भेजने में IFSC code की जरुरत होती है। जो की बैंक की हर ब्रांच का अलग अलग होता है। इसका फूल फॉर्म (IFSC full form)इंडियन फाइनेंसियल सिस्टम कोड होता है आइये जानते हैं की ये IFSC code होता क्या है और इसका क्या महत्व है। 

आईएफएससी कोड (IFSC code) क्या है?

भारतीय वित्तीय प्रणाली कोड (Indian Financial System Code) एक यूनिक 11 अक्षरों का अल्फ़ा न्यूमेरिक कोड (alpha numeric code) है जो किसी भी बैंक की शाखा को प्रदान किया जाता है यदि वह बैंक की शाखा ऑनलाइन बैंकिंग (Online banking) की सुविधा से जुडी हुई है।

किसी भी IFSC code में पहले चार अक्षर(letter) बैंक के नाम पर होते हैं, पांचवां अक्षर शून्य “0 ” रखा गया है और अंतिम छह वर्ण वे हैं जो बैंक की शाखा के पते की पहचान करते हैं और आमतौर पर संख्यात्मक (numeric) होते हैं। 

आईएफएससी (IFSC code) का उपयोग नेशनल इलेक्ट्रॉनिक्स फंड ट्रांसफर (NEFT), रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) और तत्काल भुगतान सेवा (Immediate Payment Service-IMPS) जैसी सेवाओं के लिए इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर करते समय किया जाता है। इस तरह के लेनदेन को सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए, भुगतानकर्ता के पास पैसे लेने वाले के बैंक का आईएफएस कोड (IFSC code)होना चाहिए।

आईएफएससी कोड के लाभ (Advantage Of IFSC code)

1- समय और धन बचाता है:(Time and Money Saver)

ऑनलाइन बैंकिंग (Online banking) का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे समय और ऊर्जा की बचत होती है । आप यातायात, बैंक की लाइन और पारंपरिक बैंकिंग की औपचारिकताओं को छोड़ सकते हैं और बस अपने आराम और सुविधा के हिसाब से मिनट के भीतर अपने बैंकिंग लेनदेन को पूरा कर सकते हैं। 
आईएफएससी (IFSC code)ऐसे ऑनलाइन लेनदेन की सुविधा प्रदान करता है और आपका समय बचाता है। 

2-पेपर की बचत(Paper Saving)

सभी को यह पता है की पेपर पेड़ की लकड़ी से बनता है और वृक्ष पर्यावरण के लिए कितना महत्वपूर्ण है आईएफएससी (IFSC code)के माध्यम से सक्षम ऑनलाइन बैंकिंग बैंकिंग को पेपरलेस बनाने में मदद करता है और इसलिए पेड़ और पैसे दोनों बचाता है। इस तरह से इलेक्ट्रॉनिक बैंकिंग पर्यावरण के अनुकूल भी है और सरल तथा समय बचाने वाला है ।

3-सुरक्षित और सरल (Secure and Easy)

online banking के लिए, लाभार्थी के आईएफएससी (IFSC code) को वेरीफाई करने की आवश्यकता होती है जिसे बाद में बैंक द्वारा सत्यापित किया जाता है । भुगतानकर्ता के बैंक के सत्यापन के बाद आईएफएससी-सक्षम ((IFSC enabeld) अकाउंट में फंड ट्रांसफर कर सकता है। इससे प्रक्रिया सुरक्षित और सरल हो जाती है क्योंकि सत्यापन केवल प्रथम बार ही होता है। साथ ही, आईएफएससी के उपयोग के माध्यम से ऑनलाइन बैंकिंग वित्तीय लेनदेन प्रक्रिया से मानव हस्तक्षेप खत्म हो जाता है, ऐसी बैंकिंग सुविधा अधिक पारदर्शी और जवाबदेह होती है और किसी भी प्रकार के घोटाले या झोल-झाल की संभावना को कम करती है इसके अलावा, ऑनलाइन बैंकिंग में चूंकि भेजने वाले और रिसीवर खाताधारकों दोनों को एसएमएस(SMS) और ईमेल (Email) के माध्यम से तुरंत लेनदेन की जानकारी दी जाती है, इसलिए ऐसी बैंकिंग धोखाधड़ी या किसी नुकसान के लिए कम संवेदनशील होती है।

4- 24/7 की सुविधा होती है। (24*7 Facility)

ऑनलाइन बैंकिंग में आप सुविधा का उपयोग अपने समय के अनुसार किसी भी समय 24 घंटे और सातों दिन हिसाब से कर सकते हैं।ऑनलाइन बैंकिंग (Online Banking) में आपको किसी भी बैंकिंग सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके विपरीत ब्रांच बैंकिंग में आप बैंक के टाइम पर ही किसी सुविधा का लाभ ले सकते हैं। 

एनईएफटी (NEFT) क्या है?

NEFT Full Form – National Electronic Fund Transfer (राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर)

यह एक बैंक से दूसरे बैंक में ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर (Online money transfer)करने का तरीका है। इस तरीके से सुरक्षित और प्रभावी तरीके से एक खाते से दूसरे खाते में पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है। यह इंटरनेट आधारित सुविधा है इसलिए इसमें कागज की बचत होती है। यह भी सस्ते लेनदेन में शामिल हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने बैंकों को एनईएफटी (NEFT) के लिए ग्राहकों से कुछ भी चार्ज नहीं करने के दिशा-निर्देश जारी किए हैं और इसलिए ज्यादातर बैंक इस सेवा को निःशुल्क प्रदान करते हैं। इस प्रकार के लेन-देन में संलग्न दोनों बैंकों के पास अपनी नामित शाखाओं के लिए यह कोड होना चाहिए ।

ऑनलाइन बैंकिंग (Online Banking) की आवश्यक सुरक्षा सावधानियां क्या हैं? 

  • चूंकि यह ऑनलाइन प्रक्रिया है, इसलिए फ्रॉड के किसी भी मामले को रोकने के लिए ग्राहक को अपने ऑनलाइन बैंकिंग पासवर्ड का ध्यान रखना चाहिए। और नेट बैंकिंग(Net Banking) का इस्तेमाल साइबर कैफ़े और सार्वजानिक जगहों पर करने से बचना चाहिए।
  • बहुत से लोग फ़ोन के द्वारा आपसे आपके क्रेडिट या डेबिट (Credit or Debit ) कार्ड की जानकारी मांगने की कोशिश करते हैं तो कभी भी ऐसी जानकारी किसी को न दें क्योंकि बैंक आपसे ये जानकारी कभी भी फ़ोन पर नहीं मांगता है। 
  • झूठे उपहार के लालच में कभी अपनी बैंकिंग जानकारी किसी को न दें। 
  • क्रेडिट कार्ड फ्रॉड से बचने  के बारे में अधिक जानकारी के लिए Credit Card Fraud से कैसे बचें? Complete Safety Guide पढ़ें  । 

अंत में (At Last)

आर्टिकल में कोशिश की गयी की आपको केवल IFSC full form की ही जानकारी न हो , इसके अलावा ऑनलाइन बैंकिंग (Online Banking) और उसकी अन्य सुविधाओं और खतरों के बारे में भी बताया गया। अगर किसी विषय की और अधिक जानकारी की जरुरत हो तो आप हमें contact form के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।

IFSC Code FinderClick Here

ifsc full form, IFSC Full Form Kya Hai?, Online कारोबार, Online कारोबार

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *