ऑनलाइन बिज़नेस आईडिया (online business idea) में आज हम ड्रॉपशिपिंग (dropshipping) business model के बारे में जानेंगे और समझेंगे की ये कैसे काम करता है और इसमें रेवेन्यु कैसे जेनेरेट किया जाता है |

DROPSHIPPING BUSINESS MODEL का मतलब क्या है?

इंटरनेट के विकास तथा आदमी की पहुँच दुनिया के कोने-कोने तक ने ही ड्रॉपशिपिंग बिज़नेस मॉडल ( dropshipping business model )को जन्म दिया है | अमेरिका तथा यूरोपियो देशों में यह बिज़नेस मॉडल काफी पहले से पसन्द किया जा रहा है | भारत में पिछले कुछ सालों से ये काफी लोकप्रिय है |

                           DROPSHIPPING BUSINESS MODEL में आपको कोई भी इन्वेंटरी रखने की आवश्यकता नहीं है इसमें सबसे मुख्य काम प्रोडक्ट के होलसेलर या मैन्युफैक्चरर से सम्पर्क करना होता है | इस मॉडल में आप होलसेलर या उत्पादनकर्ता के सामान को भी अपनी वेबसाइट पर अपनी कीमत पर बेचते हैं, इसमें होलसेलर की कीमत और आपकी कीमत का अन्तर ही आपका मुनाफ़ा होता है | कुछ लोग डिलीवरी चार्ज अलग से लेते हैं और कुछ कीमत में ही जोड़ देते है अर्थात फ्री डिलीवरी देते हैं |

उदाहरण – अगर कोई होलसेलर या उत्पादनकर्ता (manufacturer) आपको सामान 50 रू में  देता है तो आप उससे सामान न लेकर सामान की तस्वीर और बाकी डिटेल लेते है और उसको अपनी वेबसाइट पर 150 रू कीमत में डाल देते है और इसमें कूरियर चार्जेज लेना है या नहीं ये आपकी मर्जी पर निर्भर करता है | आपके पास जैसे ही आर्डर आता है आप उसे होलसेलर को भेजते है तथा वह आपके बदले आर्डर ग्राहक को भेज देता है आपके पास जो पेमेन्ट ग्राहक से आयी है वह आर्डर कन्फर्म होने के बाद होलसेलर को भेज दी जाती है |

                               अगर आपका होलसेलर या मैन्युफैक्चरर सामान सही न होने पर रिफंड या रिटर्न की गारंटी देता है तो यह आपके और ग्राहक के रिलेशन के हिसाब  से बहुत ही अच्छा होता है |

Dropshipping के लिए मुख्य वेबसाइट कौन सी हैं?

जब से dropshipping business model  लोकप्रिय हुआ है बहुत सी ऐसी वेबसाइट हैं जो होलसेलर और मैन्युफैक्चरर को अपने साथ जोड़कर काम करती हैं | आपको कहीं भी जाकर अलग-अलग होलसेलर या मैन्युफैक्चरर खोजने और बिज़नेस टाई-अप (business tie-up) करने की जरुरत नहीं है | आपको बस उन वेबसाइट की मेम्बरशिप लेनी होगी और उसके बदले सालाना या मासिक फीस देनी होगी

(A) विश्वस्तर की कंपनियों में मुख्य DROPSHIPPING वेबसाइट –

         (1) Aliexpress.com 

         (2) Lightinthebox.com 

         (3) Bonanza.com 

         (4) Miniinthebox.com 

         (5) Dealextreme.com 

         (6) Banggood.com 

(B) भारत में  प्रमुख DROPSHIPPING कंपनी –

         (1) MEESHO APP 

         (2) Chinabrands.com 

Dropshipping business model  के फायदे advantages –

  इंटरनेट से जुड़े एवं घर बैठे ऑनलाइन काम करने के बिज़नेस आईडिया (business idea) में dropshipping एक कारगर तरीका है पैसे कमाने का |

इस बिज़नेस मॉडल के निम्न फायदे हैं –

(1) आपको कोई भी भौतिक सामान (physical inventory)रखने की आवश्कता नहीं है |

(2) आपको केवल मार्केटिंग एवं एडवरटाइजिंग पर ध्यान देने की आवश्कता है |

(3) Dropshipping business model में आपके पास केवल लैपटॉप, इंटरनेट कनेक्शन और क्रेडिट कार्ड होना चाहिए | दुनिया के किसी कोने में बैठ कर आप आराम से ड्रॉपशिपिंग बिज़नेस कर सकते हैं |

(4) किसी भी गोदाम या बड़े जगह की कोई आवश्यकता नहीं होती हैं |

(5) कम पूंजी ( बिना पूंजी नहीं ) में आप ड्रॉपशिप्पिंग का काम कर सकते हैं |

Dropshipping के नुकसान disadvantages-

Dropshipping business model के फायदे होने के साथ नुकसान भी हैं जैसे –

(1) इस बिज़नेस मॉडल में आपका इन्वेंटरी पर कोई भी नियन्त्रण नहीं रहता है |

(2) प्रोडक्ट की गुणवत्ता भी आपके नियन्त्रण से बहार रहती है अतः विश्वासपात्र और अच्छे क़्वालिटी का सामान भेजने वाला होलसेलर या मैन्युफैक्चरर चुनें |

(3) कूरियर में ज्यादा समय लगता है जिससे आर्डर कैंसिल होने का डर बना रहता है |

(4) अगर सामान ग्राहक को पसन्द न आये तो रिटर्न और रिफंड में भी दिक्कत होती है |

(5) सर्विस नियन्त्रण में न होने से आपके वेबसाइट की ब्रांड इमेज भी प्रभावित होती है |

उपसंहार conclusion-

अगर आप पार्ट टाइम ऑनलाइन काम करना चाहते हैं तो प्रतिदिन 2-4 घंटे काम करके आप अच्छा पैसा कमा सकतें है | इसके अतिरिक्त अगर आप के पास ज्यादा आर्डर आने लगे तो आप फुल टाइम भी ये काम कर सकते हैं | अगर आप सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं और ऑनलाइन काम करना चाहते है तो Dropshipping business आपके लिए बेहतर अवसर है काम करने का|

Top 10 Most Amazing Online Business Ideas From Home

Read Related article

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *