राजीव सर्किल फ़ेलोशिप (Rajeev Circle Fellowship) क्या है और युवा enterpreneurs  को कैसे मदद करती है ?

Rajeev Circle Fellowship एक ऐसा कार्यक्रम  है जो मदद करती है उन आगे बढ़ने वाले , सपने देखने वालों और समाज को बदलने की चाह रखने वाले उद्यमियों (entrepreneurs) की जिनके सपने में भी उड़ान होती है।

राजीव सर्किल फ़ेलोशिप (Rajeev Circle Fellowship) का मुख्य उद्देश्य उन उद्यमियों (entrepreneurs) को रास्ता दिखाना, गाइड करना, तथा एक निश्चित लक्ष्य को प्राप्त करने में सहयोग करना है जो अभी नए हैं , जिनके पास विचार या आईडिया तो बढ़िया है परन्तु ये पता नहीं है की कैसे इस पर आगे बढ़ा जाय।

Rajeev Circle Fellowship की शुरुआत –

मोटवानी-जडेजा फाउंडेशन (Jadeja-Motwani Foundation ) के द्वारा “राजीव सर्किल फ़ेलोशिप” (Rajeev Circle Fellowship) चलाया जाता है इसकी  संचालक श्री मती आशा जडेजा जी हैं , इस फ़ेलोशिप(fellowship) की  शुरुआत आशा जडेजा जी ने अपने स्वर्गीय पति श्री राजीव मोटवानी जी की याद में तथा उनके और अपने विज़न और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए किया।

राजीव मोटवानी(Rajeev Motwani) जी स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय (Stanford University) में प्रोफेसर तथा प्रसिद्ध कंप्यूटर वैज्ञानिक (computer scientist) थे। इसके अलावा वो एक महान गुरु (Mentor) एवं पथ प्रदर्शक भी थे उन्हें पता था की उद्यमशीलता तथा टेक्नोलॉजी के मेल से ही जीवन को सरल एवं सुगम बनाया जा सकता है। “

गूगल(Google) और ईमेल के द्वारा पैसे ट्रांसफर करने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी Pay-Pal  के विकास के समय google के Larry Page और  Sergey Brin  एवं paypal के  Peter Theil के पथ प्रदर्शक (mentor) राजीव मोटवानी ही थे

ये दोनों कम्पनियाँ अपने आप में मील का पत्थर हैं लोगों के जीवन तथा व्यापार के तरीके को बदलने में इन दोनों कंपनियों का शानदार योगदान है।

राजीव फ़ेलोशिप का कार्यक्षेत्र – Working Area of Rajeev Circle Fellowship –

उभरते हुए उद्यमियों या फिर आपके विचार एवं उद्यमशीलता (Potential) को देखते हुए जडेजा-मोटवानी फाउंडेशन जिन्हे भी चुनता है वह भारत या फिर आसपास के देशों के भी हो सकते हैं को दो से चार सप्ताह (2-4 weeks) के लिए सिलिकॉन वैली (Sillicon Valley) भेजता है

सिलिकॉन वैली ऐसी जगह है जहाँ के कण -कण में उद्यमशीलता और टेक्नोलॉजी (entreprenuership and technology) बसती है। इस फ़ेलोशिप (Fellowship) का मुख्य उद्देश्य यही है की वहां जाएँ , देखें और सीखें की कैसे , किस माहौल में लोग काम कर रहे हैं। इस दौरान आपको बहुत से अलग अलग क्षेत्रों के विशेषज्ञों जैसे युवा और अनुभवी उदयमियों, टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट (technology expert), इन्वेस्टर (investor), सीड फंडर (seed funder) आदि से मिलवाया जाता  है और कई तरह की वर्कशॉप आयोजित कर आपके ज्ञान और विज़न को सही दिशा देने की कोशिश की जाती है।

इन सब वर्कशॉप (workshop) का मुख्य उद्देश्य यही है की आपके नज़रिये , आत्मविश्वास और समाज के प्रति जिम्मेदारी को एक ताकत मिले और आप एक लीडर की तरह आगे बढ़ें।

महिला सशक्तिकरण पर सम्बंधित लेख पढ़ें. Read related article on women empowerment 

फ़ेलोशिप (Fellowship) की चयन प्रक्रिया – 

राजीव सर्किल फ़ेलोशिप (Rajeev Circle Fellowship) केलिए कोई निश्चित चयन प्रक्रिया नहीं है।  आशा जडेजा जी अपने हिसाब से और आपके विचार या आईडिया की क्षमता के अनुसार चयन करती हैं आप अगर फ़ेलोशिप के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो www.rajeevcirclefellowship.org  पर संपर्क कर सकते हैं।

आशा जडेजा जी के अनुसार अगर आप फ़ेलोशिप (Fellowship) के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अपने पास के मेकर फेस्ट (Maker Fest) में बूथ (Booth) के लिए आवेदन करना चाहिए ये सबसे सरल तरीका है आवेदन करने का। 

इंटरनेट के विकास के साथ व्यापार एवं उद्योग में भी क्रन्तिकारी परिवर्तन आया है आजकल का नौजवान नए तरीके से व्यापार करने और समाज के लिए कुछ करने का नज़रिया रखता है “राजीव सर्किल फ़ेलोशिप” ऐसे ही नौजवानों को दिशा एवं मार्गदर्शन  देने में सहायता करता है यह बहुत ही महत्वपूर्ण और समाज कल्याण में अहम् योगदान है अतः ऐसा ही नज़रिया हम आने वाली पीढ़ियों को भी दें जिससे एक बेहतर भारत बन सके। 

जय हिन्द !

Please follow and like us:
error

One thought on “Rajeev Circle Fellowship-A youngpreneurs’ fellowship

  1. A further issue is that video gaming became one of the all-time greatest forms of entertainment for people of all ages. Kids have fun with video games, and adults do, too. The particular XBox 360 is among the favorite gaming systems for folks who love to have hundreds of games available to them, and who like to experiment with live with some others all over the world. Thanks for sharing your opinions.

     

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please write your E-mail for new updates