अमेज़न सहेली(Amazon Saheli) महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक सकारात्मक कदम 

महिला सशक्तिकरण(women empowerment ) एक ऐसा शब्द जिसके सुनते ही हमारे दिमाग में दबी  कुचली परेशान  और आर्थिक रूप से अक्षम महिलाओं की तस्वीर कौंध जाती है | अमेज़न सहेली(Amazon saheli) महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक सकारात्मक एवं प्रशंसनीय  कदम है और महिलाओं  आर्थिक आज़ादी का कारक भी है। 

  8 मार्च को महिला दिवस (women day ) पूरी दुनिया मे मनाया जाता है | ऑनलाइन कारोबार का सदा ये उदेश्य रहता है कि आपको ऑनलाइन बिज़नेस से सम्बंधित जानकारी  तथा  नई खबरें दी जाएं जो आपको कहीं ना कहीं फायदा पहुँचाये चाहे वो व्यापर हो या समाज से जुड़ा कोई पहलू |

                आज का हमारा ब्लॉग महिला सशक्तिकरण की दिशा में विश्व की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कम्पनी अमेज़न के द्वारा भारत में शुरू किया कार्यक्रम अमेज़न सहेली (Amazon saheli) है ,जो काबिले-तारीफ़ है | यह प्रयास थोड़ा पुराना है परन्तु इस विशेष अवसर पर ऑनलाइन कारोबार (online karobar) के द्वारा प्रस्तुत किया जा रहा है |

 अमेज़न सहेली (Amazon Saheli) की शुरुआत –

नवम्बर 2017 में विश्व की कंपनी अमेज़न (Amazon.com ) भारतीय यूनिट Amazon.in ने महिला सशक्तिकरण एवं समाज सुधार दिशा में आगे बढ़ते हुए अपनी अमेज़न सहेली (amazon saheli) कार्यक्रम शुरू किया.

इस कार्यक्रम को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य मात्र इतना है की समाज में जो महिलाये आर्थिक या  रोज़गार की स्तीथी में सक्षम नहीं है उन्हें सम्बल प्रदान किया जाये तथा उन्हें इस काबिल बनाया  जाये की वह अपने पैरों पर खड़ी हो सकें और अपने परिवार का पालन पोषण बढ़िया तरीके से कर सकें |

इसमें आगे बढ़ते  हुऐ अमेज़न ने बहुत  से  महिला सशक्तिकरण एवं जागरूकता (women empowerment & awareness ) पर काम करने वाली गैर सरकारी संस्थाओ (NGO ) ,स्वयं सहायता समूह (self help group ) आदि से सम्पर्क कर हाथ मिलाया है |

Women Empowerment -Amazon Tied Up With “Kudumbashree”

अमेज़न भारत ने महिला सशक्तिकरण (women empowerment) की दिशा में केरला के “कुदुम्बश्री  ” से हाथ मिलाया|

अमेज़न सहेलिका उद्देश्य -AIM OF AMAZON SAHELI-

किसी भी  बड़ी या छोटी कम्पनी की एक सामाजिक जिम्मेदारी (SOCIAL RESPONSIBILITY) होती है की वह जिस समाज से इतना मुनाफा कमा रही है उस समाज के प्रति अपनी कुछ नैतिक जिम्मेदारी निभाए और समाज को भी कुछ वापस करे | यह जिम्मेदारी तो वैसे सभी की होती है परन्तु इसको पूरा कुछ  ही लोग करते है जिनकी विश्वास और नीयत समाज के प्रति सकारात्मक होती है |

अमेज़न ने अपनी सामाजिक जिम्मेदारी को निभाते हुए ‘अमेज़न सहेली ‘कार्यक्रम महिला सशक्तिकरण शुरू किया |

इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देशय आज के इंटरनेट युग में महिलाओं को ऑनसेलिंग (online selling) के प्रति जागरूक करना , उनको विभिन्न तरह की ट्रेनिंग मुफ्त में उपलब्ध करना तथा सक्षम बनाना है | जिससे  की अगर वह कोई छोटा-मोटा व्यापार ,कुटीर उधोग में लगी है तो उनका सामान  हिंदुस्तान में पहचाना जाये और देश के कोने-कोने में बिक़े |

अमेज़न सहेली से जुड़ने का  तरीका -HOW TO CONNECT WITH AMAZON SAHELI-

 अमेज़न सहेली(Amazon Saheli) में महिला उधमी के उत्पादों को AMAZON.IN पर अलग विंडो (WINDOW )में दिखाया जायेगा | अमेज़न सहेली से जुड़ने के लिए Amazon.inpartner पर जाये |

अगर कोई महिला पहले से अमेज़न पार्टनर प्रोग्राम से जुड़ कर काम कर रही है तो वह इसके लिए योग्य नहीं मानी जाएगी |

अमेज़न सहेली से जुड़ने के लिए दस्तावेज -Documents required for Amazon saheli-

  1. पैन कार्ड 
  2. आधार कार्ड 
  3. बैंक अकाउंट 
  4. जी एस टी  रजिस्ट्रेशन

अमेज़न सहेली(Amazon Saheli) में अमेज़न  द्वारा प्रदान कीजाने वाली सुविधाएँ –

  1. अमेज़न सहेली( Amazon saheli) के अन्तर्गत महिलाओं  को ऑनलाइन सेलिंग (online selling) सम्बंधित पूरी ट्रेनिंग प्रदान की जाती है | इसके अन्तर्गत उन्हें प्रोडक्ट की फोटो खींचने ,उन्हें साइट पे लिस्टिंग करना ,उनका मूल्य तय करना इत्यादि शामिल है | 
  2. अमेज़न सेलर से जो कमीशन हर  बिक्री पर लेता है वह अगर 12 % से ऊपर है तो सहेली प्रोग्राम में उस पर 1 वर्ष तक छूट दी जायेगी अर्थात आपको 12 % ही देना होगा ज्यादा नहीं| 
  3. अमेज़न सहेली के अन्तर्गत आप किराना ,गृह एवं फैशन से जुड़ी क्षेत्रीय (regional ) सामान भी बेच सकते है | 
  4. सहेली प्रोग्राम जुड़े सामानो को Amazon.in वेबसाइट पर  एक अलग खिड़की (window )पर दिखाया जायेगा जिससे इस तरह के उत्पादों को एक अलग पहचान मिले | 
  5. अमेज़न सहेली इससे जुड़ने वाली महिलाओं को ऑफलाइन तथा ऑनलाइन  दोनों तरह की ट्रेनिंग प्रदान की जाती है | 
  6. सहेली प्रोग्राम के तहत आपको पूरी तरह सिखाया जायेगा की स्टोर को सम्भालना (manage )कैसे किया जाये.

महिला सशक्तिकरण की  दिशा में ‘अमेज़न सहेली ‘( Amazon Saheli) एक  प्रशंसनीय कदम है.जैसे-जैसे  इन्टरनेट का प्रयोग एवं पहुँच बढ़  रही है उस तरह से देखा  जाये तो इन्टरनेट के माध्यम से महिला सशक्तिकरण (women empowerment )की दिशा में यह  एक बड़ा एवं मजबूत कदम है | 

Please follow and like us:

One thought on “Amazon Saheli- A step towords women empowerment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *